Mobile Number Portability (MNP) कैसे करें।

Mobile Number Portability क्या है? हम मोबाइल नंबर को पोर्टेबिलिटी कैसे कराये।

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी एक ऐसी सर्विस है।जिसके अनुसार हमारे पास जो मोबाइल नंबर है हम उसको किसी भी नेटवर्क कंपनी से जोड़ सकते है।जैसे कि यदि हमारे पास Airtel का sim Card है।और जहाँ पर रहते है वहाँ airtel का नेटवर्क अच्छा नही है या फिर हमे एयरटेल की सर्विस पसंद माना की हमे Jio पसंद है।तो हम अपने नंबर को Jईओ में करवा सकते है।यही प्रकिर्या पोर्टेबिलिटी कहलाती है।
अब इस सर्विस का दायर और बड़ा दिया गया है तथा सर्विस में भी काफी सुधार कर दिया गया है।पहले हम इस सर्विस को एक स्टेट से दूसरे स्टेट में नही करवा सकते थे।लेकिन अब हम अपने मोबाइल नंबर को किसी भी स्टेट में पोर्ट करवा सकते है।इसी के साथ पहले इसको सर्विस को कम्पलीट होने में सात दिन का समय लगता था।वही अब तीन दिन में ये कम्पलीट हो जाती है।

Mobile number portability kaise कराये
MNP कैसे कराये

हम अपने Mobile Number की Portability कैसे कराये।

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी के लिए हमे दो छोटी स्टेप फॉलो करनी होती है।एक स्टेप हमे खुद करनी होती है और दूसरी स्टेप में हमे मिनी स्टोर जाना होता है।तो चलिये जानते है कि वो कौन सी स्टेप है।

सबसे पहले हमे अपने मोबाइल से एक मैसेज भेजना होता है।जिसमे हमे Port फिर एक स्पेस और इसके बाद अपना मोबाइल नंबर लिखना है।और फिर इसको हमे 1900 पर भेजना है।
उदाहरण के लिए जैसे की हमारा मोबाइल नंबर है।9712345678 तो हमे मैसेज लिखना है।
PORT<>9712345678 और 1900 पर send करें।

इसके बाद हमारे मोबाइल पर एक मैसेज आयेगा जिसमे हमे एक UPC कोड दिया होगा।इस कोड को हमे किसी के साथ शेयर नही करना है।क्योंकि इसका गलत इस्तेमाल भी किया जा सकता है।और हम अपना मोबाइल नंबर भी खो सकते है।इसलिये जिसको देना है हम आपको बताते है

अब हमे जिस कंपनी में अपना नंबर कराना है उसके डीलर के पास जाना है।उसको हमे UPC कोड देना है।और इसके साथ में अपना एक आई डी प्रूफ देना है।डीलर UPC कोड लेकर आपके सामने आपका फ़ोटो लेकर उसे एक्टिवेट कर देगा।साथ के साथ आपके मोबाइल नंबर भी मैसेज आ जायगा।और हमे एक नई सिम कार्ड भी दी जायगी जो की डीलर ही हमे देगा।

अब हमे तीन दिन का इंतज़ार करना होगा।तीन दिन के अंदर हमारी पुरानी सिम बंद हो जायगी।और जो हमे नई सिम कार्ड मिली है।वो सिम कार्ड चालू हो जायगी।इसी के साथ हमारी मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी हो जायगी।और हम नई कंपनी से जुड़ जायँगे।

Mobile Number Portability के फ़ायदे।

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी के बहुत से फायदे है।क्योंकि जब हमे किसी कंपनी की सर्विस अच्छी नही लगती और हम दूसरी कंपनी में जाना चाहते है तो हमे जाने की पूरी आज़ादी है।और हमारा नंबर भी नही बदलता है।

दोस्तों इसी तरह की और भी जानकारी से जुड़े रहने के लिये हमारी वेबसाइट से जुड़े रहे।और किसी भी तरह की टेक्निकल जानकारी या फिर हमारे द्वारा दी जानकारी आपकी समझ में नही आई ही तो हमे कमेंट करें।

0 Response to "Mobile Number Portability (MNP) कैसे करें।"

टिप्पणी पोस्ट करें

Please Do Not Spam Link In The Comment Box

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel